Radha Krishn: Krishna - Arjun Gatha S3 E04 03Nov full Episode

Radha Krishn: Krishna - Arjun Gatha S3 E04 03Nov full Episode

Radha Krishn: Krishn - Arjun Gatha S3 Episode 04 03 Nov 2020 Full Episode In Hindi on Hostar Radha Krishna Serial. 

Hello guys, Good Afternoon all of you and radhe radhe. स्वागत हैं हमारी website radha krishna serial. 

जैसा की आपने title देखते पता चल गया है की what a we going to talk about क्या होने वाला है radha krishna serial के Radha Krishn Krishn - Arjun Gatha Arjun S3 - E04 - 03 Nov episode मे तो चलीये शुरु करते है.


आज के episode की शुरुआत होती है जहां राधा और कृष्ण जेल में बातें कर रहे होते हैं कृष्ण कहते हैं मैं नहीं चाहता कि भविष्य में मुझे कोई भी ऐसा कहीं मैंने अपनी बहन के निर्णय को प्रभावित किया है.

अब जो करना है सुभद्रा को ही करना होगा उसका मन जिस से विवाह करने को तैयार होगा मैं उसका विवाह उससे ही करवा लूंगा. वही दूसरी तरफ बलराम दाऊ तिलक की तैयारी शुरू करते हैं बलराम सुभद्रा और दुर्योधन को मंदिर में जाकर एक साथ पूजा करने के लिए कहते हैं.

दोनों जाते हैं और उनके साथ राधा भी जाती हैं राधा से कहती है जो भी तुम्हारे मन में है वह तुम दुर्योधन से पूछ लो तो वैसे ही करती है तो बताती है कि वह उनसे प्रभावित होकर यह यह वही है वह वह से प्रेम नहीं करते हैं.

Radha Krishn: Krishna - Arjun Gatha S3 E04 03Nov full Episode


दुर्योधन कहता है तब आप मेरा सम्मान करती है. आप मेरे पराक्रम से प्रभावित होकर आप मेरे साथ विवाह कर रही है.
जैसे सभी एक राजा का करते हैं और विवाह के पश्चात आप हस्तिनापुर की रानी बनेगी और मैं भी आपको एक रानी की भांति ही सम्मान करुगा. 


यह कह कर दुर्योधन वहा से आ जाते हैं और यही सवाल सुभद्रा अर्जुन से पूछती हैं. अर्जुन अपने धनुष्य को सम्मान दे रहे होते है.

तब सुभद्रा पुछती है की आप अपने धनुष को क्यो प्रणाम कर रहे है? तब अर्जुन कहता है की धनुश मे भी जिव होता है तभी तो वह मेरे साथ ऐक होता है.

फिर सुभद्रा कहती है की वह दुर्योधन से प्रेम नहीं करती लेकिन उस से अत्यधिक प्रभावित होकर यह विवाह कर रही है तो क्या इस आधार पर उन्हें विवाह करना चाहिए?

अर्जुन कहते हैं यदि विवाह का आधार प्रेम नहीं तो तुम्हें दुर्योधन और वैभव पुल हस्तिनापुर में भी प्रेम के लिए तरस जाओगी. 

सुभद्रा पुछती है की आपके ओर द्रोपदी मे प्रेम है इसलिए आपने उससे विवाह किया. कब अर्जुन कहता है की हा, मे द्रोपदी से प्रेम करता हु.

सभद्रा पुछती की क्या आप प्रेम केलिऐ अपने धनुश को त्याग कर सकते है? सुभद्रा को प्रेम समझा ने केलिऐ अर्जुन अपने धनुश को उठाकर उसको तोड देता है. 

यह सब देखकर सुभद्रा काफि खुश हो जाती है. फिर वह वापस से सभा मे आ जाती है.

यह सब कृष्ण देख रहे होते है ओर कहते है की अब समय आ गया है मुझे इस जेल से बाहर निकल ने का. कृष्ण सैनिको को कहते है की तुम द्वारिकाधीश को बुलाओ. मुझे उनसे मिलना है.

Radha Krishn: Krishna - Arjun Gatha S3 E04 03Nov full Episode


तब पौड्रक आ जाता है. पौड्रक कहता है की तुम कह रहे थे की तुम यहा से बाहर निकल सकते हो तो अभी तक तुम यहा क्या कर रहे हो. 


तब कृष्ण पौड्रक को अपनी बातो से उन्हे मुर्ख बनाकर पौड्रक को ही जेल मे केद करके सभा मे चले जाते. 

दुसरी ओर तिलक शुरु होता है तब कृष्ण वहा आ जाते है. तब अर्जुन समझ जाते है की यह असली कृष्ण है तब अर्जुन उन्हे प्रणाम करता है. 

कृष्ण बलराम से कहते है की पहले आप दोनो से यह पुछ लिजिऐ की वह अपने सपूर्ण मन से यह विवाह करने केलिए सज्ज है.

तब बलराम दोनो से पुछते है. दुर्योधन यह विवाह को स्विकार करता है किन्तु सुभद्रा मना कर देती है ओर कहती है की मे दुर्योधन से प्रेम नही करती.

यह सुनकर बलराम काफी क्रोधित हो जाता है ओर कहता है की तुम मेरी प्रतिष्ठा ओर मेरे वचन का अपमान कर रही हो. मेरे वचन का क्या होगा.

तब कृष्ण कहते है की आपको यह वचन नही देना चाहिए था. कृष्ण कहते है की ऐक वचन केलिऐ हम अपनी बहन के जिवन को नही त्याग सकते.

कृष्ण सुभद्रा से पुछते की तो तुम किससे प्रेम करती हो? तब सुभद्रा अर्जुन का नाम लेती है. यह सुनकर अर्जुन काफि चौक जाता है ओर आज का episode यही पे खत्म होता है. 

Radha Krishn: Krishna - Arjun Gatha S3 E04 03Nov full Episode


कल के episode मे दीखा़ा जायेगा की दुर्योधन कहता है की आप सुभद्रा को विवाह केलिए सज्ज करके मेरे पास लेकर आईये नही तो ससांर आपको वचन का पालन नही करते बलराम कह लायेगे.


तब बलराम काफी क्रोधित हो जाते है. कृष्ण उन्हे समझाने जाते है तब बलराम उनसे क्रोधित होकर कहते है की तुम चुप हो जाव कान्हा. बहोत बोल लिया तुमने.

दुसरी ओर पौड्रक अर्डुन पर पिछे से बार्ण चलाता है. अर्जुन उस बाण को पकड लेता है किन्तु उसे चोट लग जाती है. यह देखकर कृष्ण काफी क्रोधित हो जाते है.

कृष्ण कहते है की जो अतिथि पर हमला करे उसकी तो अर्थी ही निकलती है. 

Thank you for Reading this Post.. and Radhe Radhe

अगर आप राधा कृष्ण अर्जुन का था रोज देखते है तो हमारी website को folllow किजिए. Radhe Radhe...




Post a comment

0 Comments